Monday, 25 January 2016

महेन्द्र देवांगन माटी - गीत - उठो साथियों

गीत-उठो साथियों
--------------
उठो साथियों अब तो जागो-2
राष्ट्रहित के काम को
आओ पहले नमन करे हम,भारत माँ के लाल को -2
जिसने इस माटी की खातिर,अपना खून बहाया है
मातृभूमि की सेवा करने,तन मन सारा लगाया है
ऐसे बलिदानी वीरों का-2
याद करें उस नाम को
आओ पहले-------
देश की सेवा करने खातिर,जिसने अलख जगाया है
अंग्रेजों को मार भगाने,अपना खून बहाया है
ऐसे वीर सपूतों का-2
याद करे बलिदान को
आओ पहले-------
झांसी की रानी लक्ष्मी बाई जब,काल बनकर आई थी
गांव गांव और नगर नगर,आजादी की अलख जगाई थी
हिला दिये अंग्रेजी सत्ता-2
कैसे भुलें उस नाम को
आओ पहले-------
चंद्रशेखर आजाद भगतसिंह,सबको जोश दिलाया है
नवयुवकों को होश मे आने,जिसने घुटटी पिलाया है
ऐसे वीर बहादुर के-2
याद करें उस काम को
आओ पहले-------
उठो साथियों------
रचना
महेन्द्र देवांगन माटी
बोरसी - राजिम (छ. ग.)
8602407353

No comments:

Post a Comment