Monday, 3 September 2018

बाल कृष्ण

बाल कृष्ण 
( सार छन्द में )

बाल कृष्ण के लीला भारी , बोले नटवर लाला ।
राधा क्यों गोरी है मैया , मैं क्यों बिल्कुल काला ।।
बात अजब सुनकर के मैया , मंद मंद मुस्काये ।
ऐसे क्यों कहता है लल्ला , तुमको क्यों बतलाये ।।
मोहन बोले सुन ले मैया , आज मुझे बतलाओ ।
रुठ जाऊँगा अब मैया मैं,  पास नहीं तुम आओ ।।
सुन मोहन के बात यशोदा , उसको गले लगाई ।
क्यों काला है सुन ले लल्ला,  आज उसे बतलाई ।।
बंदीगृह में जन्म लिया है , तू है किस्मत वाला ।
अँधियारी में आया है तू , इसीलिए है काला ।।

श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ

महेन्द्र देवांगन माटी
पंडरिया  (कवर्धा )
छत्तीसगढ़
Mahendra Dewangan Mati

मात्रा ---- 16 +12 =28

3 comments:

  1. अपना कमेंट यहां करें

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन रचना भैय्या जी 💐

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद गोस्वामी जी

      Delete