Monday, 4 April 2016

उठो प्यारे

""उठो प्यारे""
***************
सुबह हो गई उठो प्यारे

मुर्गा बांग लगाये

चीं चीं चिड़िया  करे 

बछड़ा भी रंभाये

दादा उठकर सैर करे

दादी पानी लाई

बापू डाले दाना पानी

मम्मी चाय बनाई

तुम भी आलस छोड़ो प्यारे

उठकर दौड़ लगाओ

रोज करो योग और कसरत

सेहत अपनी बनाओ

महेन्द्र देवांगन माटी

No comments:

Post a Comment